Menu Close

Department Of Hindi

  • About
  • Message of Chairperson
  • People
  • Programmes
  • Activities
  • Facilities
  • Former Chairpersons
  • Research
  • Download
  • Contact
  • Gallery

चौधरी बंसी लाल विश्वविद्यालय, भिवानी में हिन्दी-विभाग की स्थापना सन् 2014 में हुई। विभाग में एम.ए. हिन्दी की कक्षाओं का अध्ययन-अध्यापन किया जाता है। विभागीय साहित्य-परिषद् के तत्त्वावधान में भारत के विश्वविद्यालयों के लब्धप्रतिष्ठ विद्वानों को आमंत्रित कर विद्यार्थि यों के ज्ञानवर्धन के लिए व्याख्यान-माला समय-समय पर आयोजित की जाती है। विभाग में विद्यार्थियो के बौद्धिक विकास के लिए एवं प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए भी मार्गदर्शन किया जाता है। हिन्दी-विभाग में पाँच प्राध्यापक कार्यरत है। प्रोफेसर बाबूराम एम.ए., एम.फिल., पीएचडी. और डी.लिट् उपाधि प्राप्त है। डॉ. दीपक कुमारी एम.ए., एम.फिल., पीएच.डी. और नेट एवं डॉ. सुशीला एम.ए., एम.एड., एम.फिल., पीएच.डी और नेट उत्तीर्ण है। डॉ. महक एम.ए., पीएच.डी. और जे.आर.एफ. है। श्री धर्मवीर नेट पास है। विभागीय सभी प्राध्यापक शोधकार्य में निरंतर रत है और विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के मानको को पूर्ण करते है। सभी प्राध्यापक राष्ट्रभाषा हिन्दी से जुड़कर एवं अन्तर्विद्यावर्ती शोध में रुचि रखते है। शोध के विविध प्रकार-भाषावैज्ञानिक शोध, शैलीवैज्ञानिक शोध, काव्यशास्त्रीय शोध, वैज्ञानिक शोध, लोकतात्त्विक शोध एवं पाठानुसंधान आदि में निरंतर सक्रिय है। बदलते परिवेश में विद्यार्थियो को शोध की नई तकनीक और समाज से जोड़कर आधुनिक विमर्शो-स्त्री विमर्श, किसान विमर्श, प्रवासी विमर्श, दलित विमर्श, आदिवासी विमर्श, किन्नर विमर्श, बाल विमर्श, वृद्ध विमर्श, वैश्विक महामारी विमर्श, विधि विमर्श,पर्यावरण विमर्श आदि को शोध में सम्मिलित करने का प्रयास है। राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय शोध पत्र-पत्रिकाओं में विभागीय शिक्षको के शोधपत्र प्रकाशित होते रहते है। वर्तमान संदर्भ में राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 को क्रियान्वित करने में शोध की उपयोगिता और उसके महत्त्व को नवीनतम पाठ्यक्रम के माध्यम से आगे बढ़ा रहे है। विभाग में विद्यार्थियों में शोध के प्रति जिज्ञासा एवं जागरूकता उत्पन्न करने के लिए स्वाध्याय(मैसजिनकल) एवं संगोष्ठी(मैउपदंत) पाठ्यक्रम में निर्धारित है।शोध को केवल सूचना पर आधारित न रखकर भारतीय ज्ञान परंपरा के साथ जोड़कर अध्ययन और अनुसंधान किया जा रहा है।

Prof Babu Ram

Professor

1

7027400041 email
drbabuji1958@gmail.com
View Profile   

Dr. Sushila

Assistant Professor

1

9812832272
sushilaarya1970@cblu.edu.in
View Profile
   

Dr. Deepak Kumari

Assistant Professor

1

9467405913
kumarideepak1982@cblu.edu.in
View Profile
   

Dr. Mehak Mobile

Assistant Professor

1

9802323363
raman3934@cblu.edu.in
View Profile
   

Dharamvir

Guest Faculty

1

9813991691
dharamviraryavart@gmail.com
View Profile
   

Prof Babu Ram

Professor

1

7027400041 email
drbabuji1958@gmail.com
View Profile   

Dr. Sushila

Assistant Professor

1

9812832272
sushilaarya1970@cblu.edu.in
View Profile
   

Dr. Deepak Kumari

Assistant Professor

1

9467405913
kumarideepak1982@cblu.edu.in
View Profile
     

Dr. Mehak Mobile

Assistant Professor

1

9802323363
raman3934@cblu.edu.in
View Profile
       

Dharamvir

Guest Faculty

1

9813991691
dharamviraryavart@gmail.com
View Profile
   

Mr.Dharmbir

Daftri

8607832137
dharmbirjindhar.89@gmail.com
  

Pravin

Clerk

( Outsourced )

 999128632
pmehla122@gmail.com
 

Sushma Sharma

Assistant

( Outsourced )

9034559580
sushmasharma2709@gmail.com

Narender

Peon

( Outsourced )

99671097934 
narenderkumar16111989@gmail.com

Course: M.A. Hindi

Duration : 2 Years

Course Type : Post Graduation

हिन्दी-विभाग चौधरी बंसी लाल विश्वविद्यालय, भिवानी की स्थापना वर्ष 2014 में हुई। विभाग में स्नातकोत्तर कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं की संख्या 40 है। विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास को ध्यान में रखते हुये विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) के अनुसार चयन आधारित क्रेडिट पद्धति (CBCS) का नवीनतम पाठ्यक्रम है, जो रोजगारोन्मुखी है। राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 के अनुसार विभिन्न विधाओं में उपलब्ध प्राचीन एवं आधुनिक साहित्य का ज्ञान, भारतीय एवं पाश्चात्य दार्शनिक विचारधाराएँ, भाषा-विज्ञान, अनुवाद, सम्प्रेषण कौशल एवं मुक्त ऐच्छिक विषयों के साथ-साथ अंतरअनुशासनिक (Inter-Disciplinary) विषय पाठ्यक्रम में सम्मिलित हैं। विद्यार्थी प्राचीन भारतीय शिक्षा, संस्कृति व ज्ञान परम्परा के साथ-साथ समाज सेवा के कार्यों में भी निरंतर सक्रिय हैं। हिन्दी-विभाग छात्रों को आधुनिक तकनीकी ज्ञान से जोड़कर सेमिनार व स्वाध्याय के माध्यम से कौशल के साथ जोड़ने के लिए भी प्रयासरत है। विभाग में समय-समय पर राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठियां, सांस्कृतिक गतिविधियां एवं अन्य विश्वविद्यालयों में कार्यरत आचार्यों के विस्तार-व्याख्यान भी आयोजित करवाता रहता है। विभागीय शिक्षक गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के लिए अनुभव एवं योग्यता रखते हैं।

Bachelor Degree in any discipline with at least 45% marks in aggregate (42.75% in case of SC/ST/Blind/Visually/ Differently Abled etc. candidates).

5150/- (Annual)

Course: M.A. Translation Studies in English and Hindi

Duration : 2 Years

Course Type : Post Graduation

This new course is started in the academic session 2020-2021 with intake of 30 seats

Bachelor Degree in any discipline with at least Bachelor Degree in any discipline with at least 50% marks in aggregate (47.50% in case of SC/ST/Blind/Visually Differentially abled etc.)

10150/- (Annual)

कार्यालय एवं कक्षाओं में फर्नीचर की सुविधा है।
Desktop 01
Printer 01
Projector 01
1. Dr. Satish Arya         July 2014 to June 2017
2. Dr. Sneh Lata          June 2017 to July 2018
3. Prof. Babu Ram      July 2018 to Till Date
English हिन्दी